यूपी को रेल मंत्रालय का बड़ा तोहफा, दो जिलों के लिए बिछेगी 141 KM नई लाइन, यात्रियों को होगा ये फायदा

यूपी को रेल मंत्रालय का बड़ा तोहफा, दो जिलों के लिए बिछेगी 141 KM नई लाइन, यात्रियों को होगा ये फायदा
UP NEWS

यूपी के यात्रियों के लिए शानदार खबर सामने आई है। खबर के मुताबिक इन दो जिलों के बीच नए रेलवे ट्रैक जल्दी ही बिछाए जाएंगे। रेलवे प्रशासन ने यात्रियों और ट्रेनों की बढ़ती संख्या को ध्यान में रखते हुए यह महत्वपूर्ण निर्णय लिया है। उत्तर प्रदेश के काफी शहरों के साथ ही उत्तराखंड और जम्मू की यात्रा करने वाले यात्रियों को इस नए रेलवे ट्रैक से बड़ी सुविधा मिलने वाली है। इससे यात्रा करने वालों को आने-जाने में आसानी होगी और सफर में समय भी कम लगेगा।

मुरादाबाद से गाजियाबाद तक दो नए रेलवे ट्रैक की शुरुआत की जा रही है। यह निर्णय यात्रियों के लिए वास्तव में बड़ी सुविधा होगी। इन दो नए रेलवे ट्रैकों की शुरुआत से यात्रियों को समय और जेब में राहत मिलेगी। रेलवे मंत्रालय ने यात्रियों और ट्रेनों की बढ़ती संख्या को ध्यान में रखते हुए यह महत्वपूर्ण निर्णय लिया है।

यह भी पढ़ें: यूपी के इन विश्वविद्यालयों में गलती से भी न लें एडमिशन, हो चुके हैं फर्जी घोषित, देखें लिस्ट

उत्तर प्रदेश के इन दो जिलों के बीच एक 141 किलोमीटर लंबी नई रेलवे ट्रैक की व्यवस्था करने का कार्य शीघ्र ही प्रारंभ किया जाएगा। दो नए रेलवे ट्रैक का निर्माण होने के बाद मुरादाबाद से गाजियाबाद, रामपुर, बरेली, लखनऊ और उत्तराखंड के जम्मू की यात्रा करने वाले यात्रियों का  कम समय में ही यात्रा पूर्ण हो जाएगा। वर्तमान समय में इस रूट पर सिर्फ दो रेलवे लाइन ही हैं, रेलवे मंत्रालय द्वारा इस बड़े फैसले के बाद, यात्रियों को सफर में अच्छा लाभ मिलेगा। 

यह भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश के इन जिलों मे होगी भीषण वर्षा IMD ने जारी किया अलर्ट

मौजूदा समय में गाजियाबाद और मुरादाबाद के स्टेशनों के मध्य में केवल दो ट्रैक पर ट्रेन चल पा रही हैं। इस मार्ग पर दैनिक आधार पर लगभग 200 ट्रेनें चलती हैं। यहाँ से मुरादाबाद, रामपुर, बरेली, और लखनऊ के लिए सीधी ट्रेनें उपलब्ध हैं। उत्तराखंड और जम्मू का सफर करने के लिए भी मुरादाबाद से ट्रेनें चला करती हैं। इस रेलवे लाइन से काठगोदाम और रानीखेत जैसी स्थानों के लिए भी ट्रेन सेवाएं उपलब्ध हैं। आने वाले समय में रेलवे बुलेट और हाईस्पीड ट्रेनें भी चलाई जा सकती हैं। कभी-कभी रेलवे लाइनें अधिक यातायात के कारण अव्यवस्थित हो जाती हैं, इसके परिणामस्वरूप, सिग्नल की प्रतीक्षा में रहकर ट्रेनें घंटों खड़ी रहती हैं, जिससे यात्री अपने गंतव्य तक पहुंचने में देरी का सामना करते हैं।

यह भी पढ़ें: यूपी के इन जिलों में अगले 5 दिन लगातार होंगी बारिश, बिजली गिरने की आशंका

सीनियर डीसीएम आदित्य गुप्ता ने बताया कि एक सर्वे का आरंभ हो चुका है। रेलवे ने एक कंपनी को नामित करके बचे हुए ट्रैक के लिए सर्वे करवा रही है। इस साल अक्टूबर से नवंबर तक ट्रेनों का निर्माण आरंभ किया जा सकता है। इस नए ट्रैक की लंबाई 141 किलोमीटर होगी, और उम्मीद है कि यह कार्य इस वर्ष के अक्टूबर या नवंबर में ही शुरू हो जाएगा।

On

Join Basti News WhatsApp

ताजा खबरें

मोहित यादव अपहरण कांड में अब तक क्या-्क्या हुआ? पुलिस ने किया नया दावा, जानें- यहां
Mohit Yadav ने बनाया था गंदा वीडियो? अपहरण Case में बस्ती पुलिस का बड़ा दावा
…तो कट जाएगा यूपी सरकार के शिक्षकों का वेतन? जान लें ये यह नियम
यूपी के इन जिलों में भारी बारिश की संभावना, गरज के साथ बिजली गिरने की आशंका
यूपी के इस शहर में रचा गया इतिहास, दो किलोमीटर की रफ्तार पर दौड़ी मेट्रो, सामने आईं ये तस्वीरें
अयोध्या समेत 5 जिलों के जिलाधिकारियों का तबादला, नीतीश कुमार को मिली नई जिम्मेदारी
यूपी सरकार की इस स्कीम का उठाएं फायदा, बस के सफर में मिलेगा बंपर डिस्काउंट
गोरखपुर से दिल्ली जाना हो जाएगा और आसान, अगले महीने से शुरू हो जाएगा यह एक्सप्रेस वे
यूपी में इन 60,000 टीचर्स को मिलेगी पुरानी पेंशन, योगी सरकार का बड़ा फैसला
यूपी के इन जिलों में अगले 5 दिन लगातार होंगी बारिश, बिजली गिरने की आशंका