यूपी में इस रूट पर अब लेट नहीं होगी रेल! एक्सीडेंट का कोई चांस नहीं, 160 kmph पर चलेगी ट्रेन

Vande Bharat News:

यूपी में इस रूट पर अब लेट नहीं होगी रेल! एक्सीडेंट का कोई चांस नहीं, 160 kmph पर चलेगी ट्रेन
indian railway

Vande Bharat News: रेलवे बोर्ड की चेयरपर्सन और सीईओ जया वर्मा सिन्हा ने उत्तर मध्य और उत्तर रेलवे के वरिष्ठ रेलवे अधिकारियों के साथ मंगलवार को पलवल और वृदावन के बीच वंदे भारत ट्रेन में कवच परीक्षण का निरीक्षण किया. 160 किमी प्रति घंटे की गति से चलने वाली आठ-कार सेट वंदे भारत में यात्रा करते समय सिन्हा को रेड सिग्नल, लूप लाइन्स और अन्य गति प्रतिबंध बिंदुओं पर कवच कार्य प्रणाली का अनुभव हुआ.

आगरा रेलवे डिवीजन, पीआरओ प्रशस्ति श्रीवास्तव ने कहा, "सब चीफ सिग्नल और दूरसंचार इंजीनियर कुश गुप्ता की समग्र देखरेख में किया गया परीक्षण सफल रहा क्योंकि ट्रेन कवच की मदद से लाल सिग्नल पर अपने आप रुक गई."

यह भी पढ़ें: ये एक्सप्रेस वे बना तो यूपी बन जाएगा 'राजा', शहरों की दूरी हो जाएगी और कम, 45 मिनट में पूरा होगा सफर

उन्होंने कहा, "ट्रेन ने लोको पायलट के हस्तक्षेप के बिना कवच की मदद से सभी गति प्रतिबंधों का पालन किया. उदाहरण के लिए, पलवल-वृदावन स्टेशनों में से एक जगह के पास लूप लाइन में प्रवेश करने के लिए इसे 30 किमी प्रति घंटे तक धीमा करना था. जो इसने काफी सटीक तरीके से किया.

यह भी पढ़ें: UP Weather Updates: उत्तर प्रदेश में और बढ़ेगी गर्मी या होगी बारिश? जानें- क्या कहता है IMD का लेटेस्ट अलर्ट

परीक्षण में भाग लेने वाले अधिकारियों ने कहा कि सिन्हा कवच के सफल कामकाज से बेहद प्रभावित थीं. कवच ने सभी मापदंडों का कुशलतापूर्वक पालन किया.

यह भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश मे आधे घंटे तक खड़ी रही ट्रेन, सोता रहा स्टेशन मास्टर, लोको पायलट ने फिर किया ये काम

सिन्हा अन्य वरिष्ठ रेलवे अधिकारियों महाप्रबंधक, उत्तर मध्य रेलवे और महाप्रबंधक, उत्तर रेलवे,  सिग्नल और दूरसंचार इंजीनियर, एनसीआर जोन और प्रधान कार्यकारी निदेशक, रेलवे बोर्ड और मंडल रेल प्रबंधक, आगरा  के साथ सुबह 9:15 बजे पलवल स्टेशन से वंदे भारत में चढ़ीं.

एक रेलवे अधिकारी ने कहा ट्रेन सुबह 9:38 बजे शोलाका स्टेशन पहुंची और इसे अगले स्टेशन, होडल में प्रवेश करने से पहले लाल सिग्नल पर रुकना था. 160 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चलने पर, कवच प्रणाली ने लाल सिग्नल को रीड किया और लगभग 1,300 मीटर की दूरी से ऑटोमेटिक ब्रेक लगा दिया.

9 मीटर पहले रुक गई ट्रेन
उन्होंने कहा, "यह सिग्नल से सिर्फ 9 मीटर पहले रुक गया और चेयरपर्सन समेत सभी ने संतोष व्यक्त किया."

रेलवे अधिकारियों के अनुसार, ट्रेन ने सभी स्थायी गति प्रतिबंधों का पालन किया और कवच प्रणाली की मदद से और लोको पायलट के किसी भी मैन्युअल हस्तक्षेप के बिना जहां आवश्यक हो वहां धीमी गति से चली.

अधिकारी ने बताया कि “ट्रेन सुबह 10:45 बजे वृन्दावन पहुंची. श्रीवास्तव ने कहा, ''चेयरपर्सन ने वृन्दावन स्टेशन पर लगे कवच सिस्टम का भी निरीक्षण किया. वापसी यात्रा वृन्दावन से सुबह 11:10 बजे शुरू हुई और दोपहर 12:30 बजे पलवल पहुंची.

सभी वंदे भारत ट्रेनों में 'कवच' प्रणाली लगी है, जो किसी भी कारण से लोको पायलट के असफल होने की स्थिति में अपने आप ब्रेक लगा सकती है.

चेयरपर्सन के निरीक्षण से पहले, गुप्ता की देखरेख में आगरा मंडल ने अन्य मेल, एक्सप्रेस के साथ-साथ वंदे भारत ट्रेनों के लिए 140 किमी प्रति घंटे और 160 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से तीन कवच परीक्षण सफलतापूर्वक किए.

आगरा मंडल ने मथुरा (स्टेशन को छोड़कर) और पलवल के बीच 80 किलोमीटर की दूरी पर एक संपूर्ण कवच नेटवर्क विकसित किया है. इसमें स्टेशन क्षेत्रों और अन्य स्थानों पर रेलवे पटरियों पर आरएफआईडी टैग लगाना, स्टेशनों जैसे कई स्थानों पर स्थिर कवच इकाइयों की स्थापना और पटरियों के साथ टावरों और एंटेना की स्थापना शामिल है.

क्या है कवच सिस्टम?
अनुसंधान डिजाइन और मानक संगठन (आरडीएसओ) द्वारा विकसित कवच प्रणाली, आपातकालीन स्थिति में स्वचालित रूप से ब्रेक लगा सकती है जब ट्रेन चालक समय पर कार्य करने में विफल रहता है.

आरडीएसओ के अधिकारियों के मुताबिक, दिल्ली और आगरा के बीच तीन हिस्सों में 125 किलोमीटर का हिस्सा पूरे रेल नेटवर्क का एकमात्र हिस्सा है, जहां ट्रेनें 160 किलोमीटर प्रति घंटे की अधिकतम गति से चल सकती हैं. भारत में अन्य सभी खंडों पर ट्रेनें अधिकतम 130 किमी प्रति घंटे की गति से चलती हैं.

भारत की पहली सेमी-हाई स्पीड ट्रेन गतिमान एक्सप्रेस के लिए यहां विशेष ट्रैक बिछाया गया था, जिसे अप्रैल 2016 में लॉन्च किया गया था.

On
Follow Us On Google News

ताजा खबरें

UP Weather Forecast: यूपी के इन इलाकों में गरज और चमक से साथ बारिश के आसार, जानें अपने जिले का हाल
ये एक्सप्रेस वे बना तो यूपी बन जाएगा 'राजा', शहरों की दूरी हो जाएगी और कम, 45 मिनट में पूरा होगा सफर
मेष राशि वाले आज रहें सतर्क, सिंह वाले करेंगे मौज मस्ती, इन लोगों को मिल सकता है प्रमोशन || जानें आज का राशिफल
UP में कब तक आएगा Monsoon? जानें यूपी में मौसम के हाल का लेटेस्ट अपडेट
Uttar Pradesh मे Intercity की जगह लेने को तैयार हुई वंदे मेट्रो इस रूट पे सिर्फ 75 मीनट मे कवर करेगी 200 किलोमीटर
Basti News: बैलेट पेपर में चुनाव निशान के साथ छेड़छाड़ का आरोप
Aaj Ka Rashifal || 23rd May 2024 Horoscope: तुला राशि वालों का हो सकता है एक्सीडेंट, धनु को मिल सकती है नौकरी, देखें आज का राशिफल
Driving License बनवाने वालों के लिए बड़ी खबर, अब नहीं करना होगा ये काम, आसान हो गया सब कुछ
बस्ती में पीएम मोदी ने जनता से कहा- राम-राम, हरीश द्विवेदी, जगदंबिका पाल और प्रवीण के लिए बदल गए हवा
यूपी के इस शख्स के खाते में रातों रात आ गए 99 अरब रुपये, फिर जो हुआ वो कर देगा हैरान
बस्ती में पीएम नरेंद्र मोदी, जमीन से आसमान तक टाइट सिक्योरिटी, SPG ने डाला डेरा
UP Weather News: यूपी में इन जिलों में जल्द हो सकती है झमाझम बारिश, जानें- आपके जिले का हाल
यूपी का वह गांव जहां बल्ब और बिजली तक नहीं... जानें- कहां है ये जगह
Uttar Pradesh के इन जिलों मे कल होगी बारिश ! ठंडी हवाएं गर्मी से देंगी राहत
बस्ती में अखिलेश यादव ने हरीश द्विवेदी को दी चेतावनी! बुलडोजर की ओर किया इशारा
पीएम मोदी, सीएम योगी की नीतियों के बूते भाजपा बनायेगी जीत का रेकार्ड- रमाकान्त पाण्डेय
Indian Railway News: देश के इस रूट पर मिलेगी नई वंदे भारत, जानें किराया और टाइमिंग
यूपी की जनता से अखिलेश यादव ने कर दिया बड़ा वादा, बीजेपी चौंकी
चुनाव आयोग ने सिफारिश मानी तो यूपी में इस जगह फिर से होगी वोटिंग! सामने आई ये वजह
यूपी में अब बच्चों का ही नहीं टीचर्स का भी आएगा रिजल्ट! ऐसे होगी टेस्टिंग, 15 जून तक का समय