Basti News: बस्ती में जिम्मेदारों की निगहबानी में चल रहे अवैध अस्पतालों के संरक्षण पर मौन है प्रशासन

Basti News: बस्ती में जिम्मेदारों की निगहबानी में चल रहे अवैध अस्पतालों के संरक्षण पर मौन है प्रशासन
Astha Hospital News Basti

-भारतीय बस्ती संवाददाता-
बस्ती. बस्ती का स्वास्थ्य विभाग खुद शक के घेरे में आ चुका है. कोरोना से लड़ने के लाख दावों के बीच सरकार के फरमान को शहर के कुछ निजी अस्पताल संचालक विभागीय सांठगांठ से शासन को ठेंगा दिखा रहे है. कुकुरमुत्तों की तरह उगे इन अस्पतालों में हाल ये है की कोरोना के बढ़ते मामलों पर ये जमकर लूट मचाने से बाज नहीं आ रहे. अधिकतर पकड़े गये संदिग्ध अस्पतालों में न तो डाक्टर मिले और न ही प्रशिक्षित चिकित्साकर्मी और स्टाफ. इसके बावजूद इन अस्पतालों पर कार्रवाई के नाम पर सिर्फ कोरम पूरा करने पर जोर दिया जा रहा है.

पूरे शहर में खुले इन अस्पतालों की असल संख्या तो खुद जिले के जिम्मेदारों को ही नहीं है. स्वास्थ्य विभाग के जिस बड़े अधिकारी को निजी अस्पतालों को देखने की जिम्मेदारी मिली है वो अस्पतालों की जांच तो करते है. मगर सीज करने की कार्रवाई के कुछ दिनों के भीतर ही जिस तरह से अस्पताल खुल जाते हैं वो इनके कार्यप्रणाली पर ही सवालिया निशान लगा देती है. पिछले हफ्ते स्वास्थ्य विभाग के नाक के नीचे संचालित हो रहे हैप्पी अस्पताल को कोविड मरीज से प्रति घंटे पांच हजार की दर से आक्सीजन देने के आरोप पर सीज कर दिया गया था. बावजूद इसके हैप्पी अस्पताल खुल कर जिम्मेदारों को मुंह चिढ़ा रहा है. इसी तरह जामडीह रोड पर न्यू अवध अस्पताल पर भी सिद्धार्थनगर की एक मरीज से आक्सीजन के नाम पर भारी भरकम कीमत लेने का आरोप लग चुका है.

यह भी पढ़ें: Basti Lok Sabha Election Results 2024 || लोकसभा क्षेत्र 61 बस्ती से इंडिया गठबंधन के प्रत्याशी राम प्रसाद चौधरी की हुई जीत

सोमवार को भी एक ऐसा ही मामला सामने आया जिसे सुनकर सबके रोंगटे खड़े हो गये. पचपेड़िया रोड पर स्थित आस्था हास्पिटल में कोरोना मरीज को चालीस हजार में सिलेंडर देने का आरोप लगा है. इस पर विभागीय कार्रवाई चल रही है. इसी तरह बड़ेबन के पास स्थित शिवा हास्पिटल पर भी अवैध ढंग से संचालन का आरोप भाजपा के युवा नेता राहुल पटेल ने लगाया है. उच्चाधिकारियों को दिये तमाम शिकायती पत्रों के बावजूद अब तक कार्रवाई न होने से प्रशासन की मंशा सवालों के घेरे में है. देखना होगा की तमाम दावों के बीच संचालित हो रहे इन अवैध अस्पतालों के संरक्षणदाता पर प्रशासन कब तक मेहरबान रहता है. लोग चुप्पी पर अवाक है.

यह भी पढ़ें: Basti Lok Sabha Election 2024: हरीश द्विवेदी के समर्थन में अजय सिंह, किया बड़ा दावा

On

ताजा खबरें

यूपी के इन 21 गांवों में किसानों की बदलेगी किस्मत! योगी सरकार खरीदेगी जमीन, मिलेगा करोड़ों का मुआवाजा!
Indian Railway News: जिस रेलवे स्टेशन से सफर करते थे नेताजी और महात्मा गांधी, वहां नहीं रुकती कोई ट्रेन! जानें- क्यों?
दिल्ली से जाने वाली इस जरूरी ट्रेन की बदली गई टाइमिंग, जान लें आपके लिए भी है जरूरी
Share Market News: Maharatna PSU Stock 3 महीने के लिए खरीदें, हो सकती है दमदार कमाई
Ganga Express Way: गंगा एक्सप्रेस वे पर इतिहास रचेगी योगी सरकार, पहली बार होगा देश में ये काम
UP Bijli Bill Price: यूपी में योगी सरकार दे सकती है बड़ा झटका, ये प्रस्ताव मंजूर हुआ तो महंगी हो जाएगी बिजली!
UP Barish News: यूपी में इस तारीख को हो सकती है बारिश, IMD का बड़ा दावा
UP Ka Mausam: यूपी के इन जिलों में IMD का अलर्ट, इन जिलों में अभी और रुलाएगी गर्मी, यहां हैं बारिश के आसार
एयरपोर्ट जैसा होगा यूपी का ये रेलवे स्टेशन, 9 महीने में पूरा होगा सारा काम, मिलेंगी ये सुविधाएं
समर स्पेशल ट्रेन यात्रियों के लिए बनी दुविधा कोई ट्रेन आठ घंटे तो कोई बारह घंटे लेट, स्टेशन पे ट्रेन की राह देख रहे यात्री