जयन्ती पर पूर्व प्रधानमंत्री इन्दिरा गांधी को किया नमन्

जयन्ती पर पूर्व प्रधानमंत्री इन्दिरा गांधी को किया नमन्
Basti congress news

बस्ती . देश की प्रथम महिला प्रधानमंत्री इन्दिरा गांधी को उनके 105 वीं जयन्ती पर याद किया गया. शनिवार को कांग्रेस सेवा दल के प्रदेश सचिव नोमान अहमद के संयोजन में कांग्रेस कार्यालय पर इन्दिरा गांधी की जयन्ती अवसर पर संगोष्ठी आयोजित कर उन्हें नमन् किया गया.

नोमान अहमद ने इन्दिरा गांधी के चित्र पर माल्यार्पण करते हुये कहा कि ‘इंदिरा प्रियदर्शिनी’ से भारत की प्रधानमंत्री तक की उनकी जन-समर्पित जीवन यात्रा इतिहास के मील का पत्थर है. उन्होने देश के लिये अपना सर्वस्व बलिदान कर दिया. उन्होने भारत का भूगोल बदलकर बांग्लादेश बना दिया. वे लौह महिला थी, उनके कार्यकाल में देश ने विकास और विश्वास के अनेक आयाम गढे. उन्हें युगों तक याद किया जायेगा.

कांग्रेस नेता सूर्यमणि पाण्डेय ने कहा कि इन्दिा गांधी के कार्यकाल में महिलाओं को बराबरी का हक मिला, खेतिहर महिला मजदूरों को पुरुषों के बराबर मजदूरी का कानून बना. कृषि क्षेत्र में ‘हरित क्रांति’ का सूत्रपात हुआ. किसानों के जीवन को सुधारने के लिए परियोजनाओं से देश कृषि क्षेत्र में आत्मनिर्भर बना. आज इंदिराजी हमारे बीच में नहीं हैं, लेकिन उनके विचार और कार्य देश को सदैव प्रेरणा देते रहेंगे.
इन्दिरा गांधी को जयन्ती पर श्रद्धा सुमन अर्पित करने वालों में अखिलेश मिश्र, पंकज द्विवेदी, भरत कुमार, सज्जाद अली, शिवम, आदित्य मौर्य के साथ ही कांग्रेस और सेवा दल के अनेक पदाधिकारी, सदस्य शामिल रहे. 

About The Author

Bhartiya Basti Picture

Bhartiya Basti 

गूगल न्यूज़ पर करें फॉलो

ताजा खबरें

Ayodhya में जन्मभूमि पथ के चौड़ीकरण, सुदृढ़ीकरण के कार्यों का अफसरों ने लिया जायजा
UP MLC Election 2023: एमलसी चुनाव में बीजेपी का डंका, भूपेंद्र चौधरी बोले- महान जनता धार्मिक ग्रन्थों का अपमान करने वालों के साथ नहीं
OPINION: टेक कंपनियों में छंटनी चिंता का सबब
BJP In Lok Sabha Elections 2024: चुनावों के लिए क्या है बीजेपी के लक्ष्य और संकल्प 
Millets In India: क्या आप करते हैं मोटे अनाज का भोजन?
Shaligram Shila: क्या है शालिग्राम शिला जिससे बनेगी अयोध्या में रामलला की प्रतिमा
जानलेवा होते आवारा पशु : सरकार मूकदर्शक
BBC के डॉक्यूमेंट्री की क्या है मंशा?
OPINION: आत्मनिर्भर भारत,सामरिक, स्वास्थ्य, विज्ञान के उपकरणों का बड़ा निर्यातक
Rail Budget 2023: रेल बजट- सफर सुहावना करने का वादा