इंडिया से जाने वाला है Whatsapp ! सरकार के इस कदम ने किया मजबूर

इंडिया से जाने वाला है Whatsapp ! सरकार के इस कदम ने किया मजबूर
इंडिया से जाने वाला है Whatsapp !

दुनिया भर में मैसेजिंग और कॉलिंग की आसान, सुरक्षित और भरोसेमंद सर्विस देने वाला WhatsApp काफ़ी कम समय में भारत में लोगो के बीच अपनी मज़बूत जगह बना चुका है। आखिर ऐसा क्यों हैं? क्यों महज एक फीचर के लिए WhatsApp अपना सबसे इंपॉर्टेंट मार्केट सैक्रिफाइस करने के लिए तैयार हो गया है जानिये इस लेख के मे हमारे साथ यदि आप व्हाट्सएप यूजर हैं तो आज का यह लेख आप ही के लिए है ।

WhatsApp Update :

भारत में WhatsApp के 530 मिलियन से ज्यादा यूजर्स हैं. दुनिया भर में सबसे ज्यादा कंपनी के यूजर्स इंडिया में ही हैं. ऐसे में WhatsApp के लिए भारतीय मार्केट बेहद अहम है. बावजूद इसके, कंपनी ने कोर्ट में ये कहा कि अगर एन्क्रिप्शन तोड़ने को मजबूर किया गया तो WhatsApp भारत से चला जाएगा ।

यह भी पढ़ें: Indian Railway News: ट्रेन में बिना टिकट यात्रा करने वाले हो जाएं सावधान! अब मिलेगी ये सजा?

जानिये क्या है पूरा मामला:

WhatsApp ने हाल ही में कोर्ट में कहा है कि अगर भारत सरकार का नियम (IT Rules 2021) कंपनी से एन्क्रिप्शन तोड़ने को कहता है तो कंपनी भारत से हटाली जाएगी।कंपनी को हटाने का मतलब है भारत में WhatsApp की सर्विस बंद।गौरतलब है कि WhatsApp के सबसे ज्यादा यूजर्स भारत में ही हैं यानी कंपनी की कमाई भारत से ही होती है.

यह भी पढ़ें: दिल्ली मेट्रो की तरह वंदे भारत मेट्रो मे होगी बैठने की सुविधा, जानें रूट और किराया

ऐसे में कंपनी अगर कोर्ट में ये क्लियर कट कह रही है कि एन्क्रिप्शन तोड़ने के लिए फ़ोर्स किया गया तो भारत से एग्जिट हो जाएगी. इसका मतलब साफ़ है कि WhatsApp किसी भी क़ीमत पर एंड टु एंट एन्क्रिप्शन (End to end encryption) के साथ समझौता नहीं करना चाहता. ये मामला अब Indian Govt vs WhatsApp का हो गया है.

यह भी पढ़ें: Indian Railway News: जिस रेलवे स्टेशन से सफर करते थे नेताजी और महात्मा गांधी, वहां नहीं रुकती कोई ट्रेन! जानें- क्यों?

दरअसल IT Rules 2021 के तहत भारत में जिन इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप के रजिस्टर्ड यूजर्स 50 लाख से ज्यादा हैं उन्हें मैसेज का ओरिजनेटर बताना होगा. यानी मैसेज कहां से किसने किया इसकी जानकारी जरूरत पड़ने पर सरकारी एजेंसियों के साथ शेयर करना होगा. 2021 में ही WhatsApp इसके खिलाफ कोर्ट का दरवाजा खटखटा चुका है।

अब सवाल ये है कि क्यों WhatsApp इसके खिलाफ है? क्यों WhatsApp के लिए एंड टु एंड एन्क्रिप्शन तोड़ना मुश्किल है? ये जानने से पहले ये समझना होगा कि अब सवाल ये है कि क्यों WhatsApp इसके खिलाफ है? क्यों WhatsApp के लिए एंड टु एंड एन्क्रिप्शन तोड़ना मुश्किल है? ये जानने से पहले ये समझना होगा कि एंड अब सवाल ये है कि क्यों WhatsApp इसके खिलाफ है? क्यों WhatsApp के लिए एंड टु एंड एन्क्रिप्शन तोड़ना मुश्किल है? ये जानने से पहले ये समझना होगा कि एंड टअब सवाल ये है कि क्यों WhatsApp इसके खिलाफ है? क्यों WhatsApp के लिए एंड टु एंड एन्क्रिप्शन तोड़ना मुश्किल है? ये जानने से पहले ये समझना होगा कि एंड टु एंड एन्क्रिप्शन क्या है और इसके क्या फायदे है-

एंड टु एंड एन्क्रिप्शन:

WhatsApp Messenger से की जाने वाली चैट्स एंड-टू-एंड एन्क्रिप्शन से सुरक्षित होती हैं. एंड-टू-एंड एन्क्रिप्शन सुनिश्चित करता है कि आपके मैसेजेस और कॉल, सिर्फ़ आपके और उन लोगों के बीच रहें जिनसे आप चैट करते हैं. कोई भी दूसरा व्यक्ति उन्हें पढ़ या सुन नहीं सकता, WhatsApp भी नहीं।

On

ताजा खबरें

Icecream में कटी उंगली मिलने के बाद अब चिप्स में मिला मरा हुआ मेंढक
यूपी के इस शहर से अब मिलेगी मुंबई और दिल्ली का डायरेक्ट फ्लाइट, हो गया सारा इंतजाम
WhatsApp ने यूं खोल दिया तीन साल पुराने मर्डर का राज, बीवी ने ही कराया पति का कत्ल, जेल भुगत रहा दूसरा शख्स
UP Mein Barish पर आई बुरी खबर, अब इस तारीख तक हो सकती है बारिश, IMD की बड़ी चेतावनी
UP Monsoon Update: यूपी के इन दो जिलों में मानसून से पहले झूमकर बरसे बादल, बदला मौसम, जानें- आपके जिले का हाल
लखनऊ के बाद अब यूपी के इस शहर में गरजेगा बुलडोजर, इन 400 घरों पर खतरा, पैसा भी वसूलेगी सरकार?
यूपी के पांच शहरों को मिलेगी मेट्रो कनेक्टिविटी, तीन राज्यों तक सफर कर सकेंगे लोग
Lucknow Metro News: लखनऊ के इस कोने में भी पहुंचेगी मेट्रो, 5801 करोड़ रुपये खर्च करेगी योगी सरकार
UP Mein Barish Kab Hogi: यूपी में अगले दो दिनों में इन इलाकों में भारी बारिश के आसार, IMD की रिपोर्ट आई सामने
47 साल बाद यूपी में एक नया शहर बसाने का प्लान, 35000 एकड़ जमीन पर बसेगी ये स्मार्ट सिटी