Basti Covid-19 News: सिर्फ कागजों में जारी है गांवों को सेनेटाइज करने का अभियान

Basti Covid-19 News: सिर्फ कागजों में जारी है गांवों को सेनेटाइज करने का अभियान
Basti Covid News

-भारतीय बस्ती संवाददाता-
बस्ती. गांवों में कोरोना वायरस से लगातार मौते हो रही है. पाजिटिव केसों की संख्या बेतहाशा बढ़ रही है. ऐसे हालात में भी गांवो में सफाई और सेनेटाइजेशन का कार्य कागजों तक सिमट कर रह गया है. कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए साफ सफाई और सेनेटाइजेशन के निर्देश धरातल पर नहीं दिखाई दे रहे हैं. बजबजाती नालियां एवं गली मुहल्ले में पडे कूडे के ढेर गांव में स्वच्छता के साथ ही सेनेटाइजेशन की कहानी बयां कर रहे है. सफाई कर्मी ना तो अपने तैनाती वाले गांवो में जा रहे हैं और न ही सेनेटाइजेशन का ही कार्य किया जा रहा है.

मजरों पुरवों को छोड़िये गांव के मुख्य बाजार तक में साफ सफाई और सेनेटाइजेशन का अभाव है. यह अलग बात है कि कागजों में व्यवस्था चाक चैबन्द दर्शाया जा रहा हो. पहले कोरोना लहर में शहर से लेकर गांव तक में सेनेटाइजेशन और कंटोनमेंट जोन की व्यवस्था सुचारू रूप से संचालित हो रही थी. ग्राम प्रधानों ने गांव के गली मोहल्लो तक को सेनेटाइज करने का प्रयास किया था . लेकिन इस बार यह व्यवस्था धरातल पर नहीं दिखाई दे रही है. हालत यह है कि किस मोहल्ले में कौन संक्रमित है और कंटेनमेंट जोन कहां- कहां बना है यह तक पता नहीं चल पा रहा है.

यह भी पढ़ें: Lok Sabha Election 2024: हरीश द्विवेदी के नामांकन में BJP का शक्ति प्रदर्शन, जातीय गणित साधने पहुंचे ये दिग्गज नेता

ग्रामीण क्षेत्रों में साफ सफाई और सेनेटाइजेशन की कोई पहल नहीं दिख रही है और ना ही कंटेनमेंट जोन के मानक और बरती जाने वाली सख्ती ही दिखाई दे रही है. इसे लेकर ग्रामीण क्षत्र के निवासियों में रोश व्याप्त है. हालत यह है कि एंबुलेंस तक में सैनिटाइजेशन मात्र कोरम पूरा करने तक सिमटा है. जबकि हकीकत व्यवस्था के चाक चैबन्द होने के दावों से इतर है.

यह भी पढ़ें: UP Board Result 2024: बस्ती की खुशी ने यूपी में हासिल की 8वीं रैंक, नुपूर को मिला 10वां स्थान

अभी पिछले दिनों विकास खण्ड कप्तानगंज के ग्राम पंचायतों में साफ सफाई, सेनेटाइजेशन कार्यो के निरीक्षण के दौरान जो खुलासा हुआ. वह काफी चैकाने वाला है. डीपीसी राजा शेरसिंह, विश्णुदेव तिवारी ने कई ग्राम पंचायतों में सफाई कर्मचारियों की उपस्थिति और साफ सफाई कार्य का निरीक्षण किया. पता चला कि गांव में सेनेटाइजेश्शन तो दूर सफाई कर्मी तक नहीं आ रहे है. सफाई व्यवस्था तक बदहाल पड़ी है.

यह भी पढ़ें: Basti Lok Sabha Chunav में अखिलेश यादव की रणनीति का होगा लाभ! क्या इतिहास दोहरा पाएंगी सपा?

ग्राम पंचायत तिलकपुर के 4 राजस्व ग्राम, बढ़नी के 2 राजस्व ग्राम, दुधौरा के 6 राजस्व ग्राम, महुआ मिश्र के 3 राजस्व ग्राम, सर्रैया मिश्र के 5 राजस्व ग्राम, खजुरिया मिश्र के 4 राजस्व ग्राम, गोपियापर के 2 राजस्व ग्राम, दुबौली मिश्र के 4 राजस्व ग्राम, बट्टूपुर के 3 राजस्व ग्राम में 36 सफाई कर्मचारी अपने तैनाती ग्राम में उपस्थित नहीं मिले. ग्रामीणों ने जानकारी दी कि लगभग एक सप्ताह से अधिक समय से कोई कर्मचारी गांव में नहीं आया. जबकि एडीओ पंचायत सहज राम ने बताया कि ग्राम पंचायत महुआ मिश्र, बट्टूपुर, बढ़नी, सर्रैया मिश्र के सफाई कर्मियों को मांग के आधार पर सोडियम हाइपोक्लोराइट छिड़काव करने के लिए दिया गया.

मांग के अनुरूप सोडियम हाइपोक्लोराइट देने के बाद भी इन गांवो में छिड़काव नहीं किया जाना पाया गया. निरीक्षण रिपोर्ट के आधार पर इन सफाईकर्मियों का वेतन रोकते हुए डीपीआरओ ने स्पष्टीकरण तलब किया. बावजूद इसके जिले के अधिकांश ग्राम पंचायतों में साफ सफाई, सेनेटाइजेशन व्यवस्था बदहाल है. हां इतना जरूर है कि कुछ नव निर्वाचित ग्राम प्रधान जागरूकता का परिचय देते हुए अपने स्तर से सेनेटाइजेशन करवा रहे हैं.

बहादुरपुर ब्लाक के सबसे बडी आबादी वाले गांवों में कोरोना संक्रमण से मौतो का सिलसिला थम नही रहा है. वंही पाजिटिव केस भी बढ़ रहे है. ऐसे में प्रशासनिक लापरवाही गांवो के लिए एक बड़े खतरे की ओर इशारा कर रही है.

On

ताजा खबरें

यूपी के इन 21 गांवों में किसानों की बदलेगी किस्मत! योगी सरकार खरीदेगी जमीन, मिलेगा करोड़ों का मुआवाजा!
Indian Railway News: जिस रेलवे स्टेशन से सफर करते थे नेताजी और महात्मा गांधी, वहां नहीं रुकती कोई ट्रेन! जानें- क्यों?
दिल्ली से जाने वाली इस जरूरी ट्रेन की बदली गई टाइमिंग, जान लें आपके लिए भी है जरूरी
Share Market News: Maharatna PSU Stock 3 महीने के लिए खरीदें, हो सकती है दमदार कमाई
Ganga Express Way: गंगा एक्सप्रेस वे पर इतिहास रचेगी योगी सरकार, पहली बार होगा देश में ये काम
UP Bijli Bill Price: यूपी में योगी सरकार दे सकती है बड़ा झटका, ये प्रस्ताव मंजूर हुआ तो महंगी हो जाएगी बिजली!
UP Barish News: यूपी में इस तारीख को हो सकती है बारिश, IMD का बड़ा दावा
UP Ka Mausam: यूपी के इन जिलों में IMD का अलर्ट, इन जिलों में अभी और रुलाएगी गर्मी, यहां हैं बारिश के आसार
एयरपोर्ट जैसा होगा यूपी का ये रेलवे स्टेशन, 9 महीने में पूरा होगा सारा काम, मिलेंगी ये सुविधाएं
समर स्पेशल ट्रेन यात्रियों के लिए बनी दुविधा कोई ट्रेन आठ घंटे तो कोई बारह घंटे लेट, स्टेशन पे ट्रेन की राह देख रहे यात्री