Basti Crime News: परसरामपुर पुलिस की लापरवाही से जिंदा नहीं बचे नीरज सिंह! लोगों ने घेरा थाना

Basti Crime News: परसरामपुर पुलिस की लापरवाही से जिंदा नहीं बचे नीरज सिंह! लोगों ने घेरा थाना
neeraj singh parasrampur police

परशुरामपुर बस्ती. उत्तर प्रदेश स्थित बस्ती में परसरामपुर पुलिस अगर समय से घटना को संज्ञान में लेती तो शायद नीरज सिंह की जान बच सकती थी लेकिन यहां नहीं हो पाया. इस मामले को लेकर नवागत थानाध्यक्ष अरविंद शाही के पास परिवार के लोगों ने फोटो और एप्लीकेशन भी दिया. हत्या और अपरहण की आशंका को लेकर खबर भी छपी लेकिन एसओ परशुरामपुर से लेकर जिले के सभी आला अधिकारी मौन रहे.

शनिवार को नीरज का शव एक पीपल के पेड़ पर लटकता हुआ मिला. वहीं रविवार को परशुरामपुर थाने पर लगभग 300 लोगों ने थानाध्यक्ष अरविंद अरविंद शाही के खिलाफ धरना प्रदर्शन किया. अगर परशुरामपुर पुलिस समय से जग जाती तो  नीरज सिंह की जान बस सकती थी. परसरामपुर पुलिस ने नीरज सिंह की गुमशुदी के आठ दिन बाद न ही कोई मुकदमा दर्ज किया और न ही किसी से कोई पूछताछ की.

parasrampur police neeraj singh
भारतीय बस्ती में प्रकाशित खबर

वहीं इस मामले में बस्ती पुलिस ने कहा कि परिजन संतुष्ट होकर घर गए. एक ट्वीट में बस्ती पुलिस ने कहा कि उक्त प्रकरण में उच्चाधिकारियों द्वारा परिजनों से वार्ता किया गया, परिजन संतुष्ट होकर अपने घर गये. थाना परसरामपुर पर अभियोग पंजीकृत है,आवश्यक विधिक कार्यवाही हेतु थानाध्यक्ष परसरामपुर को निर्देशित किया गया. 

इससे पहले 23 - 24 अप्रैल की  की रात में नीरज सिंह 27 वर्ष जो अपने घर पर  खाना खाकर घर के बाहर सोया था.रात  लगभग 2 बजे नीरज सिंह  के बड़े भाई राज कुमार सिंह पुत्र जीत बहादुर सिंह लघुशंका के लिए  निकले तो नीरज सिंह अपने बिस्तर पर सोये थे सुबह जब परिवार के लोग जगे तो और काफी देर तक नीरज घर नही लौटा तो वो लोग फोन करके संपर्क करने की कोशिश किये परन्तु नीरज का मोबाइल फोन तकिए के नीचे ही मिला परिजन द्वारा चार दिनों से सभी रिश्तेदार और अपने हितैषियों के यहाँ फोन किया लेकिन नीरज सिंह का कोई पता नहीं लगा.

गूगल पर भारतीय बस्ती को करें फॉलो- यहां करें क्लिक
टेलीग्राम पर भारतीय बस्ती को करें सब्सक्राइब - यहां करें क्लिक
व्हाट्सऐप पर भारतीय बस्ती को करें  सब्सक्राइब - यहां करें क्लिक
ट्विटर पर भारतीय बस्ती को करें फॉलो - यहां करें क्लिक
फेसबुक पर भारतीय बस्ती को करें लाइक - यहां करें क्लिक

परिजन थक हार कर बुधवार को एक तहरीर परसुरामपुर के नवागत थाना अध्यक्ष अरविंद कुमार शाही को दिया. इसमें बताया गया था कि प्रधानी चुनाव के रंजिश को लेकर गांव के ही कुलदीप सिंह , शिव नरायण सिंह ,शत्रुघ्न उर्फ राजन सिंह , राम अवध सिंह आदि लोग बार बार हम लोगो को मारने पीटने की धमकी देते रहते थे.

About The Author

Bhartiya Basti Picture

Bhartiya Basti 

गूगल न्यूज़ पर करें फॉलो

ताजा खबरें

पसीने की बदबू दूर करने का काम करता है डियोड्रेंट, इन तरीकों से लंबे समय तक रहेगी महक
महिलाओं को चक्कर आने के पीछे हो सकते है ये 10 कारण, जानें और बरतें सावधानी
ओपनिंग वीकेंड पर ही नेटफ्लिक्स पर एक करोड़ घंटे से ज्यादा देखी गई डार्लिंग्स
तेहरान ने मुझे बिल्कुल अलग अवतार पेश करने का मौका दिया: मानुषी छिल्लर
रुबीना दिलैक को माधुरी दीक्षित के सामने डांस करना थोड़ा मुश्किल लगता है
रणबीर कपूर की ब्रह्मास्त्र में वानरास्त्रे की किरदार निभाएंगे शाहरुख खान, फर्स्ट लुक हुआ लीक
Azadi Ka Amrit Mahotsav 2022 : कप्तानंगज में बच्चों ने बनाई मानव श्रृंखला, दिया ये संदेश
Azadi Ka Amrit Mahotsav : 5 दिनों तक बांसी में रहे चंद्रशेखर आजाद, जानें उस दौरान क्या-क्या हुआ?
Azadi Ka Amrit Mahotsav: कप्तानगंज के स्कूल में बच्चों ने बनाई मानव श्रृंखला
Azadi Ka Amrit Mahotsav: बस्ती की धरती के अमर क्रान्तिकारी पं सीताराम शुक्ल