पाकिस्तान में इमरान खान को बलि का बकरा बनाने की तैयारी?

पाकिस्तान में इमरान खान को बलि का बकरा बनाने की तैयारी?
imran khan

संजीव ठाकुर
शहबाज शरीफ के के प्रधानमंत्री बनते ही सर मुड़ाते ही ओले पड़ने वाली बात सार्थक साबित हो चुकी है.प्रधानमंत्री शरीफ के नेतृत्व में 9 पार्टियों ने एकजुट होकर इमरान खान को प्रधानमंत्री के पद से बेदखल जरूर कर दिया,पर प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को एक खस्ताहाल पाकिस्तान ही मिला है.

चारों तरफ भुखमरी ,गरीबी, मुद्रा संकट, महंगाई, बेरोजगारी,सेना तथा सरकारी कर्मचारियों का जबरदस्त विरोध ही नई सरकार के हाथ लगा है. शहबाज शरीफ एक समस्या को सुलझाने जाते हैं तो दूसरी बड़ी समस्या सिर्फ उठा कर खड़ी हो जाती है. ऐसे में प्रधानमंत्री शरीफ सिर्फ हाथ में हाथ धरे बैठे रह जाते हैं.

यह भी पढ़ें: BSNL , Jio , Airtel और Vodafone Idea को देगा टक्कर! इस राज्य राज्य में शुरू हुई 4G सर्विस

मुद्रास्फीति तथा अंतरराष्ट्रीय मुद्रा बैलेंस को कम करने के लिए सहवाग शरीफ ने पेट्रोल गैस बिजली और आवश्यक वस्तुओं के दाम अचानक बढ़ा दिए,जिससे वहां की पूरी आवाम शाहबाज शरीफ के विरोध में सड़क पर आ गई है, पेट्रोल के दाम अचानक 27% और बिजली प्रति यूनिट 30 प्रतिशत बढ़ाने से जनता में त्राहि-त्राहि और रोष व्याप्त हो गया है.

यह भी पढ़ें: समर स्पेशल ट्रेन यात्रियों के लिए बनी दुविधा कोई ट्रेन आठ घंटे तो कोई बारह घंटे लेट, स्टेशन पे ट्रेन की राह देख रहे यात्री

आटा उपलब्ध नहीं है प्याज पहुंच से बाहर है रोटी की कीमत 25 से ₹35 हो गई है. सरकार के खिलाफ जगह-जगह प्रदर्शन और जुलूस निकाले जा रहे हैं, दूसरी तरफ पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान लगातार रैलियां कर के आम जनता को प्रधानमंत्री तथा उनकी पार्टी के विरुद्ध भड़काने का काम कर रहे है. ऐसे में सहवास शरीफ की सरकार जनता का ध्यान भटकाने के लिए कोर्ट के आदेश से गिरफ्तार करने की तैयारी में है. सरकार चलाने के लिए मंत्रिमंडल के पास मुद्रा कोष भी अब खाली हो गया है.

यह भी पढ़ें: स्टेशन से ट्रेन छूटने के 10 मिनट में नहीं पहुंचे अपने सीट पे तो कैन्सल हो जाएगा आपका टिकट !

विदेशी सहायता बंद होने लगी हैं,चीन ने अपनी सारी परियोजनाओं को बंद कर पाकिस्तान को मौद्रिक सहायता देना बंद कर दिया है. ऐसे में प्रधानमंत्री शरीफ की सरकार ने जनता का ध्यान हटाने के लिए वहां की न्यूज़ एजेंसी के अनुसार इमरान खान को बलि का बकरा बनाने योजना बना ली है और इमरान खान उनके सहयोगियों पर बंदूके तथा हथियार रखने के आरोप में कई f.i.r. की गई है एवं उन पर देशद्रोह का मामला चला कर गिरफ्तार कर सजा दिलवाने की तैयारी की है.

दूसरी तरफ इमरान खान को लगातार जान से मारने की धमकियां भी मिल रही है. उल्लेखनीय है कि इमरान खान तथा उनकी पार्टी के लाखों-करोड़ों समर्थक हैं उनमें से उनकी पार्टी के सांसद ने प्रधानमंत्री शरीफ और उन के अधिकारियों को स्पष्ट रूप से धमकी दी है की उनकी पार्टी के प्रमुख और पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान को कोई नुकसान होता है तो पूरे देश में आत्मघाती हमले किए जाएंगे.

इमरान खान की पाकिस्तान तहरीक ए इंसाफ पीटीआई पार्टी से ताल्लुक रखने वाले नेशनल असेंबली के सदस्य अत्ताउल्लाह ने ट्विटर पर शेयर करते हुए एक वीडियो में कहा अगर इमरान खान के सिर का एक बाल भी बांका हुआ तो देश चलाने वालों को चेतावनी दी जाती है कि ना तुम रहोगे ना तुम्हारे बच्चे और आत्मघाती हमला करने वाले में सबसे पहले बनने वाला व्यक्ति मैं रहूंगा और मैं किसी को नहीं बचाऊंगा ,हमारी पार्टी के हजारों कार्यकर्ता ऐसा करने के लिए तैयार है.

यह गौरतलब है कि इमरान खान की पार्टी पाकिस्तान में जल्द से जल्द चुनाव कराने की मांग कर रहे हैं और उन्होंने अदालत में एक आवेदन भी प्रस्तुत किया है. हालांकि इमरान खान को व्यक्तिगत सुरक्षा विशिष्ट रूप से दी गई है, और इमरान खान के हवेली के बाहर सुरक्षा का घेरा भी मजबूत कर दिया गया है. इमरान खान की विरोध में आने के बाद शरीफ की सरकार हिलती नजर आने लगी है,वैसे भी नई सरकार को ज्यादा ज्यादा 6 माह तक और सत्ता करने का सुख ही मिल पाएगा उसके बाद चुनाव आचार संहिता की घोषणा के पश्चात शरीफ अपनी मनमानी नहीं कर पाएंगे.

पाकिस्तान में यह भी अफवाह है कि पाकिस्तान अब बहुत जल्दी श्रीलंका की तरह दिवालिया होने की कगार पर है उसके पास 2 माह का खर्चे का मुद्रा कोष शेष है यदि किसी देश ने उनकी मदद नहीं की तो पाकिस्तान में आने वाले समय में आवश्यक वस्तुओं पेट्रोल डीजल बिजली के दाम चरम पर होंगे. सरकार के पास सरकारी कर्मचारियों को खजाने से देने के लिए पैसे भी नहीं है .

इस तरह खस्ताहाल पाकिस्तान श्रीलंका अफगानिस्तान की तरह आर्थिक बोझ के तले दिवालिया घोषित हो सकता है, और अपनी आतंकवादी पोषण की नीति के चलते अंतरराष्ट्रीय स्तर पर उसकी सहायता करने के लिए कई देशों को कई बार विचार करने की आवश्यकता पड़ेगी. इन परिस्थितियों में संयुक्त संघ ही पाकिस्तान का एकमात्र सहारा होगा ,किंतु अभी रूस यूक्रेन युद्ध में पाकिस्तान द्वारा रूस का समर्थन किए जाने के पश्चात अमेरिका तथा यूरोपीय देश भी पाकिस्तान के विरुद्ध हो चुके हैं. ऐसे में संयुक्त राष्ट्र संघ जो अमेरिका तथा यूरोपीय देशों के ईशारे पर चलता है पाकिस्तान को मदद करने में कई बार सोचने के लिए मजबूर होना पड़ेगा.

On

Join Basti News WhatsApp

ताजा खबरें

यूपी में इस जिले के 300 गांवों में दो दिन नहीं आएगी बिजली, विभाग ने की ये अपील, खत्म हो जाएगी बड़ी दिक्कत
UP Ka Mausam: यूपी में गरज चमक के साथ हो सकती है बारिश!, जाने अपडेट
यूपी में इस रूट पर फोर लेन होगी रेलवे, जानें कब शुरू होगा काम
यूपी के बस्ती में घर में कई दिनों से बंद थे अजगर के 26 बच्चे, देखते ही पैरों तले खिसक गई ज़मीन
Income tax changes का आपको होगा फायदा या नहीं? यहां एक क्लिक में जानें सब कुछ
Mohit Yadav Case: मोहित यादव मामले में बड़ा अपडेट, सत्यम समेत पांच और गिरफ्तार
Mohit Yadav की मां और परिजनों से मिलने बस्ती आई सपा प्रमुख अखिलेश यादव की टीम, किया ये वादा
यूपी के बस्ती शहर के इन इलाकों में कल नहीं रहेगी बिजली, भर लें पानी, चार्ज कर लें फोन, लैपटॉप, मोबाइल, गाड़ी
यूपी के एक Express Way से दूसरे में जाने पर अब नहीं होगी मुश्किल, योगी सरकार ने बनाया खास प्लान
Uttar Pradesh Ka Mausam: यूपी के इन जिलों मे हो सकती है गरज चमक के साथ भारी बारिश