73rd Independence Day : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बोले – Article 370 हटने से मिलेगा जम्मू-कश्मीर को फायदा

73rd Independence Day : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बोले – Article 370 हटने से मिलेगा जम्मू-कश्मीर को फायदा
Screenshot_20190815 074333

प्रधानमंत्री नरेंद मोदी (PM Narendra Modi) ने देश के तिहत्तरवें स्वाधीनता दिवस (73rd Independence day) के मौके पर राष्ट्र को लाल किले के प्राचीर से संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने कहा कि अगले पांच साल का खाका तैयार हो चुका है. पीएम मोदी ने कहा कि 2019 के चुनाव में मोदी नहीं जनता चुनाव लड़ रही थी. अनुच्छेद 370 और 35 ए का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि हमने सरदार पटेल के सपने को पूरा किया.

पीएम ने कहा कि ‘अगर 2014 से 2019 आवश्यकताओं की पूरी का दौर था तो 2019 के बाद का कालखंड देशवासियों की आकांक्षाओं की पूर्ति का कालखंड है, उनके सपनों को पूरा करने का कालखंड है.’

यह भी पढ़ें: देश में महंगाई की मार से हर नागरिक परेशान : कांग्रेस

प्रधानमंत्री ने कहा कि ‘आज जब देश आजादी का पर्व मना रहा है उसी समय देश के अनेक भागों में अति वर्षा, बाढ़ के कारण लोग कठिनाइयों से जूझ रहे हैं। कई लोगों ने अपने स्वजन खोये हैं, मैं उनके परिवारों के प्रति संवेदना प्रकट करता हूंं. ‘

लाल किले के प्राचीर से संबोधित करते पीएम मोदी

यह भी पढ़ें: मुख्तार की हाई कोर्ट से अवधेश राय हत्याकांड के ट्रायल पर रोक लगाने की मांग

पीएम ने कहा कि’ मेरे प्यारे देशवासियों, स्वतंत्रता दिवस के इस पवित्र दिवस पर सभी देशवासियों को अनेक-अनेक शुभकामनाएं. ‘ उन्होंन कहा कि ‘ देश आजाद होने के बाद से इतने वर्षों में देश की शांति और सुरक्षा के लिए अनेक लोगों ने अपना योगदान दिया है. आज  मैं उन सबको भी नमन करता हूं.’

यह भी पढ़ें: Maharashtra Politics: भाजपा और CM एकनाथ शिंदे की दुविधा

पीएम मोदी ने कहा कि’ आज जब हम आजादी का पर्व को मना रहे हैं तब देश की आजादी के लिए अपना जीवन देने वाले, जवानी जेल में काटने वाले, फांसी के फंदे को चूम लेने वाले, सत्याग्रह के माध्यम से आजादी के स्वर भरने वाले, सभी बलिदानियों, त्यागी-तपस्वियों को मैं नमन करता हूं.’

पीएम ने कहा कि’ अभी इस सरकार को 10 हफ्ते भी नहीं हुए हैं, लेकिन इस छोटे से कार्यकाल में भी सभी क्षेत्रों और दिशाओं में हर प्रकार के प्रयासों को बल दिया गया है और नए आयाम दिए गए हैं. 2019 में 5 साल के बाद प्रत्येक देशवासी के दिल और दिमाग में सिर्फ और सिर्फ देश रहा।’

पीएम ने कहा कि’ हम ‘सबका साथ, सबका विकास’ का मंत्र लेकर हम चले थे लेकिन 5 साल में ही देशवासियों ने ‘सबका विश्वास’ के रंग से पूरे माहौल को रंग दिया.’

पीएम ने कहा कि’किसानों को आज 90 हजार करोड़ रुपये सीधे उनके खातों में दिए जा रहे हैं।हम मजदूर भाइयों और किसानों को पेंशन देने के लिए भी कदम बढ़ा रहे हैं।हमने जलसंकट से निपटने के लिए अलग से मंत्रालय बनाया.’

प्रधानमंत्री ने कहा’ जब समाधान, संकल्प, सामर्थ्य और स्वाभिमान हो, तब सफलता के आड़े कोई नहीं आ सकता.’ तीन तलाक (Triple Talaq) का  जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि ‘ हमने हमारी मुस्लिम बहनों को सामान अधिकार देने के लिए ट्रिपल तलाक के विरूद्ध ये महत्वपूर्ण निर्णय लिया।ये निर्णय राजनीति के तराजू से तोलने के निर्णय नहीं होते हैं, बल्कि सदियों तक माताओं-बहनों के जीवन की रक्षा की गारंटी देते हैं.’

प्रधानमंत्री ने कहा -‘पिछले 70 साल की व्यवस्थाओं ने जम्मू-कश्मीर में अलगाववाद तथा आतंकवाद को जन्म दिया है, परिवारवाद को बढ़ावा दिया है और भ्रष्टाचार तथा भेदभाव को मजबूती दी।जम्मू-कश्मीर के सभी भाई बहनों को समान अधिकार मिले इसके लिए और उनके सपनों को आजादी देने का काम हमने किया है.’

पीएम ने कहा कि’अनुच्छेद 370 के कारण घाटी के लोगों को कई सुविधाओं का फायदा नहीं मिल पा रहा था।वहां पर भ्रष्टाचार और अलगाववाद ने अपने पैर जमा लिए थे।वहां के दलितों, गुर्जर समेत अन्य लोगों को उनके अधिकार नहीं मिल पा रहे थे जो अब उन्हें मिलने वाले हैं.’

About The Author

Bhartiya Basti Picture

Bhartiya Basti 

गूगल न्यूज़ पर करें फॉलो

ताजा खबरें

पसीने की बदबू दूर करने का काम करता है डियोड्रेंट, इन तरीकों से लंबे समय तक रहेगी महक
महिलाओं को चक्कर आने के पीछे हो सकते है ये 10 कारण, जानें और बरतें सावधानी
ओपनिंग वीकेंड पर ही नेटफ्लिक्स पर एक करोड़ घंटे से ज्यादा देखी गई डार्लिंग्स
तेहरान ने मुझे बिल्कुल अलग अवतार पेश करने का मौका दिया: मानुषी छिल्लर
रुबीना दिलैक को माधुरी दीक्षित के सामने डांस करना थोड़ा मुश्किल लगता है
रणबीर कपूर की ब्रह्मास्त्र में वानरास्त्रे की किरदार निभाएंगे शाहरुख खान, फर्स्ट लुक हुआ लीक
Azadi Ka Amrit Mahotsav 2022 : कप्तानंगज में बच्चों ने बनाई मानव श्रृंखला, दिया ये संदेश
Azadi Ka Amrit Mahotsav : 5 दिनों तक बांसी में रहे चंद्रशेखर आजाद, जानें उस दौरान क्या-क्या हुआ?
Azadi Ka Amrit Mahotsav: कप्तानगंज के स्कूल में बच्चों ने बनाई मानव श्रृंखला
Azadi Ka Amrit Mahotsav: बस्ती की धरती के अमर क्रान्तिकारी पं सीताराम शुक्ल